What Is E-SHRAM Card | Eligibility | How to Apply | In Hindi

What Is E-SHRAM Card : हेलो दोस्तों बड़ी कंपनीज और एस्टेब्लिश इंडस्ट्रीज में एंप्लॉयज को ईपीएफओ और ईएसआईसी जैसी स्कीम्स के थ्रू प्रोविडेंट फंड्स और हेल्थ इंश्योरेंस के बेनिफिट्स मिलते हैं यह स्कीम्स ऑर्गेनाइज सेक्टर के एंप्लॉयज को सिक्योरिटी प्रोवाइड करती हैं। लेकिन जो लोग दुकानों वर्कशॉप्स या छोटे एंटरप्राइजेस में काम करते हैं जहां शायद 10 से भी कम लोग होते हैं इन जगहों पर ऐसे फायदे नहीं होते तो उनकी फाइनेंशियल सिक्योरिटी कौन इंश्योर करता है, इसी जरूरत को पूरा करने के लिए भारत सरकार ने शुरू किया है ई श्रम पहल जो अनऑफिशियल प्रोटेक्शन देने का एक तरीका है।

इस पोस्ट में हम जानेंगे ( What are e card benefits ) ऑफ ई श्रम कार्ड ( ई श्रम कार्ड के लिए कौन आवेदन कर सकता है ) (ई श्रम कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें) ( आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज ) ऑफ ई श्रम कार्ड ( अपने कार्ड की स्थिति कैसे जांचें और ई श्रम कार्ड कैसे डाउनलोड करें )

What Is E-SHRAM Card ?

ई श्रम कार्ड यह एक गवर्नमेंट स्कीम है जिससे प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धान के नाम से भी जाना जाता है।

इस कार्ड को लेबर कार्ड कहा जाता है , यह कार्ड प्रोटेक्शन प्रोवाइड करता है उनकी अलग-अलग जरूरतों को पूरा करता है और उनकी ओवरऑल वेल बीइंग को इंप्रूव भी करता है खास कर के रिटायरमेंट और अनएक्सपेक्टेड इवेंट्स के बाद ई श्रम पोर्टल से गवर्नमेंट अन ऑर्गेनाइज सेक्टर के वर्कर्स का एक कंप्रिहेंसिव डेटा बेस बनाने की कोशिश कर रही है.

इससे इन वर्कर्स को गवर्नमेंट के वेरियस प्रोग्राम्स और सर्विसेस का एक्सेस भी मिलता है जो भी इंडिविजुअल ई श्रम या श्रमिक कार्ड के लिए अप्लाई करना होता है इस सेक्टर के वर्कर्स और लेबरर्स को ई श्रम कार्ड के जरिए कई तरह के बेनिफिट्स मिलते हैं।

जैसे कि विकलांगता के मामले में वित्तीय सहायता या ई श्रम कार्ड धारक के पति या पत्नी के द्वारा उनके कार्य संबंधी दुर्घटना के लिए वित्तीय सहायता तक। अगर किसी ई श्रम कार्ड धारक का कार्यकर्ता दुर्घटना में मौत हो जाती है तो उनके जीवनसाथी को सभी लाभ प्राप्त होते हैं। और 60 साल की उम्र के बाद पेंशन का लाभ मिलता है।

ई श्रम कार्ड के फायदे ?

लेबरर्स को ई श्रम कार्ड के जरिए कई तरह के बेनिफिट्स मिलते हैं जैसे कि

  1. 60 साल की उम्र के बाद रू ३००० का पेंशन
  2. कोई वर्कर व्यक्ति विकलांग हो जाता है, तो उसे एक लाख तक की वित्तीय सहायता प्राप्त होती है।
  3. अगर किसी ई श्रम कार्ड होल्डर वर्कर का एक्सीडेंट से निधन हो जाता है तो उनके स्पाउस को सारे बेनिफिट्स मिलते हैं।
  4. हर प्राप्तकर्ता को एक 12 डिजिट का यूएएन नंबर दिया जाएगा जो पूरे इंडिया में वैलिड होगा।

ई श्रम कार्ड के लिए क्या आवश्यक है ?

चलिए अब ई श्रम के लिए अप्लाई करने के लिए क्राइटेरिया के बारे में जानते हैं।

  1. वर्कर्स या एप्लीकेंट्स की उम्र 16 से 59 साल के बीच होनी चाहिए।
  2. जो भी इंडिविजुअल अन ऑर्गेनाइज सेक्टर में काम करता है या अन ऑर्गेनाइज्ड वर्कर है वह अप्लाई करने के लिए एलिजिबल है।
  3. अप्लाई करने वाले वर्कर्स के पास उनके आधार कार्ड से लिंक्ड एक वर्किंग मोबाइल नंबर जरूर होना चाहिए.

ई श्रम कार्ड अप्लाई कैसे करे ?

अब ई श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन के दो तरीके हैं। ई श्रम पोर्टल या फिर सीएससी मतलब की ( कॉमन सर्विस सेंटर) क्वालिफाइड एप्लीकेंट्स अपने नजदीकी सीएससी सेंटर जाकर आप अपना E-Shram कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं ,
अगर आप ई श्रम पोर्टल से कार्ड की एप्लीकेशन कर रहे हैं तो प्लीज ये स्टेप्स फॉलो कीजिए।

  • सबसे पहले https://eshram.gov.in/ पर जाए जो कि ई श्रम की ऑफिशियल वेबसाइट है होम पेज पर आपको रजिस्टर ऑन ई श्रम का ऑप्शन सिलेक्ट करना होगा।

E-Shram Card New Yojana 2024: मिलेंगे ₹ ३००० बैंक खाते में हर महीने |

What Is E-SHRAM Card
  • सेल्फ रजिस्ट्रेशन स्क्रीन खुलेगी यहां आपको अपना कैप्चा कोड और आधार से लिंक्ड मोबाइल नंबर डालकर सेंड ओटीपी पर क्लिक करना है।
Screenshot 19
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा इस ओटीपी को एंटर करके वैलिडेट बटन प्रेस करना है स्क्रीन पर जो पर्सनल इंफॉर्मेशन दिखाई देगी उससे वेरीफाई करना होगा।
Screenshot 22
  • इसके बाद जरूरी इंफॉर्मेशन जैसे कि आपका एड्रेस और क्वालिफिकेशन एंटर करें अब आपको अपना (पद का नाम ) जॉब का टाइप और कंपनी का नेचर चुनना है फिर सेल्फ डिक्लेरेशन ऑप्शन चुने और अपनी बैंक की डिटेल्स एंटर करें.
Screenshot 23
  • प्रीव्यू ऑप्शन पर क्लिक कर करके एंटर की गई इंफॉर्मेशन कंफर्म करें और फिर सबमिट बटन प्रेस करें।
Screenshot 25
  • फिर से मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा इस ओटीपी को एंटर करके वेरीफाई बटन प्रेस करें ई श्रम कार्ड सिस्टम द्वारा जनरेट होगा और स्क्रीन पर दिखाई देगा। ई श्रम कार्ड डाउनलोड करने के लिए डाउनलोड ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा।

ई श्रम कार्ड के लिए दस्तावेज ?

चलिए अब रिक्वायर्ड डॉक्यूमेंट के बारे में जानते हैं ईम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन करते वक्त आपको

  • आधार कार्ड।
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स।
  • एक कॉन्टेक्ट नंबर जो आधार कार्ड से लिंक हो।

ई श्रम कार्ड स्टेटस चेक कैसे करे ?

अब कार्ड एप्लीकेशन के बाद आपको अगर स्टेटस चेक करना है तो इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले https://eshram.gov.in/ पर जाएं जो ई श्रम की ऑफिशियल वेबसाइट है मेन पेज पर जाके ई आधार कार्ड बेनिफिशियरी स्टेटस चेक लिंक पर क्लिक करें।
Screenshot 26
  • फिर यूएन आधार नंबर या ई श्रम कार्ड नंबर एंटर करके सबमिट बटन प्रेस करें अब आपका ई श्रम कार्ड पेमेंट स्टेटस स्क्रीन पर दिखाई देगा।
  • और जब आपका रजिस्ट्रेशन और सब प्रोसेस कंप्लीट हो जाएगा तो आप अपना ई श्रम कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं पोर्टल से।
  • कार्ड डाउनलोड करने के लिए यह सिंपल स्टेप्स फॉलो करें।
  • सबसे पहले ईम की ऑफिशियल वेबसाइट https://eshram.gov.in/ पर जाएं होम पेज पर आते ही प्रीवियसली रजिस्टर्ड का ऑप्शन चूज करें और अपडेट डाउनलोड यूए एन कार्ड पर क्लिक करें।
  • यूएएन नंबर डेट ऑफ बर्थ और कैप्चर कोड एंटर करने के बाद जनरेट ओटीपी बटन पर क्लिक करना होगा आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा इस ओटीपी को एंटर करके वैलिडेट सिलेक्ट करें।
  • स्क्रीन पर जो पर्सनल इंफॉर्मेशन दिख रही होगी उससे वेरीफाई करना होगा दी गई इंफॉर्मेशन को कंफर्म करने के लिए प्रीव्यू ऑप्शन सिलेक्ट करें फिर सबमिट बटन प्रेस करें फिर से।
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा इस ओटीपी को एंटर करके वेरीफाई सेलेक्ट करें आखिर में ई श्रम कार्ड सिस्टम द्वारा जनरेट होगा और स्क्रीन पर दिखाई देगा।
  • उसके बाद डाउनलोड ऑप्शन सिलेक्ट करके ई श्रम कार्ड डाउनलोड कर लीजिए।

निष्कर्ष

कह सकते हैं कि ई-श्रम कार्ड एक महत्वपूर्ण कदम है जो श्रमिकों को विभिन्न प्रकार के लाभ प्रदान करता है। यह न केवल उनकी सुरक्षा को बढ़ावा देता है, बल्कि उनके परिवार को समर्थन और सुरक्षा का एक स्रोत प्रदान करता है। इसके माध्यम से दुर्घटना, अस्वास्थ्य या विकलांगता के मामले में फ़िनान्सिअली सहायता और समर्थन प्राप्त करना संभव हो जाता है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। इस प्रकार, ई-श्रम कार्ड न केवल श्रमिकों के लिए लाभकारी है बल्कि समाज के उन वर्गों के लिए भी जो असुरक्षित हैं।

Leave a Comment